Video lectures for 9th, 10th, 11th and 12th Maths, Physics and Chemistry in Hindi and English Medium SSC CGL and SSC CHSL, IBPS CWE Clerk and PO, full notes, books , sample papers, previous year solved question papers free download. Free video course for avilable on www.sureshlecturer.blogspot.in

Monday, December 26, 2016

Number System संख्या पद्धति

Number System for SSC/ Bank PO/Clerical Exam

प्राकृत संख्याएँ (Natural Numebrs):

गिनती वाली संख्याएँ प्राकृत संख्याएँ कहलाती है। जैसे :N =  1,2,3,4,5,..........

पूर्ण संख्याएँ (Whole Numbers): 

प्राकृत संख्याओं के समूह में यदि शून्य (0) और मिला दिया जाए तो हमे पूर्ण संख्याओं का समूह प्राप्त होता है।
W = 0, 1,2,3,4,5,..........

पूर्णांक (Integers) :

पूर्ण संख्याओं के समूह में यदि प्राकृत संख्याओं के  ऋणात्मक अंक और मिला दिये जाएँ तो हमें पूर्णांकों का समूह प्राप्त होता है।  Z=  ..... -4, -3, -2, -1, 0, 1, 2, 3, 4, ......

परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न :

  1. प्रथम 5 पूर्ण संख्याओं का योग क्या होगा ? Ans : 0+1+2+3+4 = 10
  2. -4 से +4 तक के पूर्णांकों का गुणनफल क्या होगा? Ans: 0

परिमेय संख्याएँ (Rational Numbers) :

जो संख्याएँ p/q के रूप रूप में लिखी जा सके, जहाँ q ≠ 0 परिमेय संख्याएँ कहलाती है। जैसे : 3/5 , ⅜, 22/7 आदि ।

अपरिमेय संख्याएँ (Irrational Numbers) :

जो संख्याएँ p/q के रूप रूप में न लिखी जा सके, जहाँ q ≠ 0 अपरिमेय संख्याएँ कहलाती है। जैसे :  √2 , √3, e, π आदि ।

Note: 22/7  एक परिमेय संख्या है जबकि π  एक परिमेय संख्या है। क्योंकि π  का मान 22/7 या 3.14 जो हम क्षेत्रमिति के प्रश्नों को हल करने के लिए प्रयोग करते है वह π लगभग मान है। 


वास्तविक संख्याएँ (Real Number):

परिमेय और अपरिमेय संख्याओं का समूह वास्तविक संख्याएँ कहलाता है। 

Note: प्राकृत संख्याएँ, पूर्ण संख्याओं का एक भाग है।  पूर्ण संख्याएँ , पूर्णांकों का एक भाग है। इसी तरह पूर्णांक भी परिमेय संख्याओं का एक भाग है जैसा कि निम्न वें आरेख में दर्शाया गया है। 

प्राकृत संख्याओं के प्रकार (Types of Natural Numbers):

  • सम संख्याएँ (Even Numbers) :  जो प्राकृत संख्याएँ संख्या 2 से विभाजित होती है, सम संख्याएँ कहलाती है। जैसे -  2,4,6,8,10,12, .........
  • विषम संख्याएँ (Odd Numbers) :  जो प्राकृत संख्याएँ संख्या 2 से विभाजित नहीं  होती है, विषम  संख्याएँ कहलाती है। जैसे -  1,3,5,7,9,11,...............




  • अभाज्य या रूढ  संख्याएँ (Prime Numbers) :  जिस  प्राकृत संख्या के  केवल  दो ही  विभाजक हो, अभाज्य संख्या कहलाती है। जैसे 2,3,5,7,11,13,.......
  • भाज्य संख्याएँ (Even Numbers) :  जिस  प्राकृत संख्या के  दो से अधिक विभाजक हो, भाज्य संख्याएँ कहलाती है। जैसे 4,6,8,9,10,12,14,15,....
  • सह-अभाज्य या जुड़वां अभाज्य  (Co-Prime Numbers): जिन दो प्राकृत संख्याओं का म॰स॰ संख्या 1 हो, वे संख्याएँ सह-अभाज्य संख्याएँ कहलाती है। जैसे :  
नोट : 
  • संख्या 1 न तो भाज्य है और न ही अभाज्य । 
  • 1 से 100 के बीच कुल 25 अभाज्य संख्याएँ है। 2,3,5,7,11,13,17,19.23,29,31,37,41,43,47,53,59,61,67,71,73,79,83,89,97
  • 2 एक ऐसी संख्या है जो सम भी और अभाज्य भी । 
  • 4 सबसे छोटी भाज्य संख्या है। 

दो या दो से अधिक संख्याओं के गुणनफल का इकाई का अंक ज्ञात करना :

इस प्रकार के प्रश्नों का हल करने के लिए केवल इकाई के अंकों की गुना करनी होती है
उदाहरण : 423 × 976 × 687 में इकाई का  अंक क्या होगा ? 
हल : 3 × 6 × 7=  126 इसलिए इकाई का अंक 6 होगा। 

किसी घात संख्या का इकाई का अंक ज्ञात करना  :

मान की हमारे पास xएक संख्या है जिसका इकाई का अंक ज्ञात करना है। इसके लिए निम्न विधि का प्रयोग करेंगे :

  • n को हम 4 से भाग देंगे तथा शेषफल नोट करेंगे ।
  1. यदि शेष 1 है तो x का इकाई का अंक ही xका इकाई का अंक होगा। 
  2. यदि शेष 2 है तो (x का इकाई का अंक) 2  का इकाई का अंक xका इकाई का अंक होगा।
  3. यदि शेष 3 है तो (x का इकाई का अंक)3  का इकाई का अंक xका इकाई का अंक होगा।
  4. यदि शेष 0 है तो (x का इकाई का अंक) 4  का इकाई का अंक xका इकाई का अंक होगा।
  • यदि x में इकाई का अंक 0,1,5 या 6 है तो xका इकाई का अंक भी क्रमश: 0,1,5 या 6 होगा। (यहाँ हमें n को 4 से भाग देने की जरूरत नहीं है। )
उदाहरण : (883)34 का इकाई का अंक क्या होगा ? 
हल : यहाँ 34 को 4 से भाग देने पर शेष 2 आता है। इसलिए 883 के इकाई के अंक 3 का वर्ग अर्थात 32 = 9 दी गई घात संख्या का इकाई का अंक होगा। 

परिमेय संख्याओं के गुणधर्म (Properties of Rational Numbers) :


1. संवृत गुण (Closure Properties) : यदि a और b दो परिमेय संख्याएं है तो 
a + b =  परिमेय संख्या ,
a - b =  परिमेय संख्या 
a  × b =  परिमेय संख्या 
अत: परिमेय संख्याएँ योग, घटा व गुना के अंतर्गत संवृत है। लेकिन भाग के अंतर्गत संवृत नहीं है क्योंकि किसी परिमेय संख्या को शून्य (जो कि एक परिमेय संख्या है ) से भाग दिया जाए तो परिणाम एक परिमेय संख्या नहीं होगा क्योंकि किसी संख्या को शून्य से भाग देना परिभाषित नहीं है। 

नोट: प्राकृत संख्याएँ व पूर्ण संख्याएँ दोनों  केवल योग व गुना के अंतर्गत संवृत है, पूर्णांक योग, घटा व गुना के अंतर्गत संवृत है।

2. क्रमविनिमेय गुण (Commutative Property): 
a + b = b + a
× b = b × a 
⇒ परिमेय संख्याएँ योग व गुणन के अंतर्गत क्रमविनिमेय है। लेकिन घटा व भाग के अंतर्गत क्रमविनिमेय नहीं है (क्योंकि a-b ≠ b-a , a ÷ b ≠ b ÷ a )। 

नोट : इसी प्रकार प्राकृत संख्याएँ, पूर्ण संख्याएँ व पूर्णांक भी योग व गुणा के अंतर्गत क्रमविनिमेय है। 

3. साहचर्य गुण ( Associative Property) :
(a + b) + c = a + (b + c) 
(a × b ) × c = a × (b × c) 
परिमेय संख्याओं के लिए योग व गुणा साहचर्य है। 
लेकिन परिमेय संख्याओं के लिए घटा व  भाग साहचर्य नहीं  है 
क्योंकि (a-b)-c  ≠ a - (b - c) तथा (a ÷ b÷ c ≠ a ÷ (b ÷ c)

नोट : साहचर्य गुण प्राकृत, पूर्ण संख्याओं व पूर्णांकों के लिए भी परिमेय संख्याओं के समान है। 

4. बटन गुण ( Distributive Property):
× (b + c) = a × b + a × c 

परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न :

  1. (-5) + 13 = 13 + (-5) जोड़ संबंधी किस गुण/नियम का उदाहरण है?
  2. (-7 + 3) +8 = -7 + (3 + 8) किस गुण के अनुसार लिख सकते है। 

किसी संख्या  का योज्य प्रतिलोम (Additive Inverse) व गुणात्मक प्रतिलोम (Multiplicative Inverse) :

योज्य प्रतिलोम (Additive Inverse): किसी संख्या A का योज्य प्रतिलोम संख्या A का ऋणात्मक  अर्थात -A होगा। जैसे संख्या 5 का योज्य प्रतिलोम -5 होगा। 
गुणात्मक प्रतिलोम (Multiplicative Inverse): किसी संख्या a का गुणात्मक प्रतिलोम 1/a होगा। जैसे संख्या 8 का गुणात्मक प्रतिलोम 1/8 होगा।  

योज्य तत्समक (Additive Identity) तथा गुणात्मक तत्समक (Multiplicative Identity) :

शून्य (0) योज्य तत्समक (Additive Identity) कहलाता है तथा संख्या एक (1) गुणात्मक तत्समक (Multiplicative Identity) कहलाता है। 

परिमेय संख्याओं का दशमलव प्रसार  :


परिमेय संख्याओं का दशमलव प्रसार दो प्रकार के होते हैं- 
(1) सांत दशमलव प्रसार - इस प्रकार की संख्याओं के दशमलव वाले हिस्से में अंको की संख्या निश्चित होती है।  जैसे 3.254, 9.12 
(2) असांत आवृति दशमलव प्रसार: इस प्रकार की संख्याओं के दशमलव वाले हिस्से में एक या एक से अधिक अंकों की पुनरावृति होती है। जैसे 0.3333333....

नोट : असांत आवृति दशमलव प्रसार वाली संख्याओं को p/q के रूप में लिखा जा सकता है। शॉर्ट cut विधि के लिए मेरा विडियो देखें । 

परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्न :

  1. 0.474747... का p/q रूप है  ...............
  2. 1.5696969.... को p/q के रूप में प्रदर्शित करे । 




Share:

Saturday, October 1, 2016

Analogy Test

Analogy Test in Hindi

सादृश्य या समानता परीक्षण 

Analogy को हिन्दी भाषा में समरूपता, समानता या सादृश्य आदि नामों से जाना जाता है। विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे SSC, NTSE, Railway, Bank PO, Clerical  आदि  में लगभग समरूपता परीक्षण के प्रश्न अवश्य पूछे जाते हैं। 
समरूपता परीक्षण में एक अंकों या शब्दों का जोड़ा दिया होता है, परीक्षार्थी को जोड़े में दिए गए अंकों या शब्दों के बीच संबंध को पहचानना होता है तथा उसी संबंध की समानता के आधार पर एक दिए गए अंक/शब्द/चित्र के लिए दिए गए विकल्पों में से एक अंक/शब्द का चुनाव करना होता है या अन्य किसी रूप से पूछे  गए प्रश्नों का उत्तर देना होता है।
उदाहरण के लिए : (1)  अध्यापक का संबंध जिस प्रकार विद्यार्थी से है उसी प्रकार दर्जी का संबंध निम्न में से किस से है?
  1. सुई 
  2. कपड़ा
  3. दुकान 
  4. मशीन 
Ans. : 2 , व्याख्या - जिस प्रकार अध्यापक विद्यार्थी को शिक्षित करके उसे सभ्य नागरिक बनाता है (नया रूप देता है ) उसी प्रकार दर्जी सिलाई करके कपड़े को नया रूप देता है। 

उदाहरण (2): अध्यापक का संबंध जिस प्रकार विद्यालय से है उसी प्रकार दर्जी का संबंध निम्न में से किस से है?
  1. सुई 
  2. कपड़ा
  3. दुकान 
  4. मशीन 
Ans. : 3 , व्याख्या - जिस प्रकार अध्यापक का कार्य स्थल उसका विद्यालय है, उसी प्रकार दर्जी का कार्य स्थल उसकी दुकान है। 
उपर्युक्त दोनों उधारणों से स्पष्ट है कि पहले दिए गए जोड़े (जैसे पहले उदाहरण में अध्यापक और विद्यार्थी, तथा दूसरे उदाहरण में अध्यापक और विद्यालय) के बीच संबंध को बहूत ही ध्यानपूर्वक  समंझना होता है, उसी के समरूप संबंध के आधार पर दिए गए शब्द के लिए (जैसे उपर्युक्त उदाहरण  में दर्जी के लिए ) दिए गए विकल्पों में से एक शब्द  चुनना होगा।
समरूपता के आधार पर प्रश्नों के प्रकार : 
  1. शब्दों की समरूपता पर आधारित प्रश्न 
  2. अंकों की समरूपता पर आधारित प्रश्न 
  3. अक्षरों की समरूपता पर आधारित प्रश्न 
  4. चित्रों की समरूपता पर आधारित प्रश्न 
1. शब्दों की समरूपता पर आधारित प्रश्न  
शब्दों के बीच संबन्धों का आधार निम्नलिखित हो सकता है: 
a) राशि और इकाई (Physical Quantity and its Unit)
उदाहरण : द्रव्यमान : किलोग्राम :: ?
  1. बुखार : चिकित्सक 
  2. वायु दाब : बैरोमीटर 
  3. तापमान : थर्मामीटर 
  4. लंबाई : मीटर 
Ans: 4 - व्याख्या : जिस प्रकार द्रव्यमान की इकाई किलोग्राम है उसी प्रकार लंबाई की इकाई मीटर है। 

b) राशि और मापन यंत्र  (Physical Quantity and its Instrument of Measurement)
उदाहरण : दूध की शुद्धता  : लैक्टोमीटर  :: ?
  1. विद्युत धारा  : वोल्टमीटर  
  2. वायु दाब : पास्कल 
  3. तापमान : थर्मामीटर 
  4. लंबाई : मीटर 
Ans: 3 - व्याख्या : जिस प्रकार दूध की शुद्धता को लैक्टोमीटर से मापते है उसी प्रकार तापमान को थर्मामीटर से मापते  है।

c) देश और मुद्रा   (Country and its Currency)
उदाहरण : बंगलादेश जिस प्रकार संबन्धित है टका से उसी प्रकार जापान संबन्धित है .......... से 
  1. दिनार 
  2. येन  
  3. यूरो  
  4. पीसो  
Ans: 2 - व्याख्या : जिस प्रकार बंगलादेश की मुद्रा टका है उसी प्रकार जापान की मुद्रा येन है।

d) देश और राजधानी    (Country and its Capital)
उदाहरण : ईरान  जिस प्रकार संबन्धित है तेहरान से उसी प्रकार पाकिस्तान  संबन्धित है .......... से 
  1. कराची  
  2. इस्लामाबाद   
  3. ढाका  
  4. लाहौर 
Ans: 2 - व्याख्या : जिस प्रकार ईरान की राजधानी तेहरान है उसी प्रकार पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद  है।

e) अध्ययन सामग्री और विषय (Study Material and its Subject)
उदाहरण :  कीट : कीटविज्ञान :: सर्प : ?
  1. कृषि विज्ञान 
  2. कवक  विज्ञान 
  3. सर्प  विज्ञान  
  4. सरीसृप  
Ans: 3 - व्याख्या : जिस प्रकार कीट का अध्ययन कीटविज्ञान किया जाता है उसी प्रकार सर्प का अध्ययन सर्प विज्ञान में किया जाता है।

f) अन्य संबंध  (Other Relations )
उपर्युक्त उदाहरणों की तरह अन्य संबंध इस प्रकार है- विपरीत शब्द, पर्यायवाची शब्द, धर्म और पूजा स्थल, धर्म और धार्मिक पुस्तक, भाषा और लिपि, पुस्तक और लेखक, राज्य और राजधानी, जीव और उसका निवास स्थान, अंश और पूर्ण आदि 

2. अंकों की समरूपता पर आधारित प्रश्न  
अंकों  के बीच संबन्धों का आधार निम्नलिखित हो सकता है: 
a) अंक और उसका वर्ग  (Number and  its Square)
उदाहरण : 15 : 225 :: 21 : 
  1. 441
  2. 121
  3. 361
  4. 461 
Ans: 1 - व्याख्या : जिस प्रकार 152 = 225,  उसी प्रकार 212 = 441 होता है।
उदाहरण : 4 : 17 :: 7 : ?
  1. 50
  2. 48
  3. 49
  4. 51 
Ans: 1 - व्याख्या : जिस प्रकार 42 + 1 = 17,  उसी प्रकार 72 + 1 = 50 होता है।

इसी प्रकार वर्ग (Square) व घन (Cube) आधारित अनेक प्रश्न हो सकते है। 

b) अंक और गुणांक   (Number and  Some Multiple)
उदाहरण : 6 : 42 :: 7 : ? 
  1. 40
  2. 56
  3. 48
  4. 52 
Ans: 2 - व्याख्या : जिस प्रकार 6 × (6+1) = 42 होता है  उसी प्रकार 7 × (7+1) = 56
उदाहरण : 12 : 72 :: 8 : ?
  1. 36
  2. 38
  3. 40
  4. 32 
Ans: 1 - व्याख्या : जिस प्रकार 12 × (12/2) = 72,  उसी प्रकार 8 × (8/2) = 32 होता है।

इसी प्रकार जोड़, घटा, गुणा, भाग आदि की एक या एक से अधिक संक्रियाओं का प्रयोग  समरूपता के प्रश्न हल करने में हो सकता है। इनके साथ वर्ग और घन का भी प्रयोग हो सकता है। 
c) अंकों का  पुनर्व्यस्थित करना    (Rearrangement of Numbers)
उदाहरण : 415 : 514 :: 168 : ?
  1. 841
  2. 682
  3. 861
  4. इनमें से कोई नहीं  
Ans: 3 - यहाँ अंकों को पुनर्व्यस्थित  करके लिखा गया है। 

3. अक्षरों  की समरूपता पर आधारित प्रश्न  

उदाहरण : JOKE : GLHB :: RISK : ?
  1. OFPH
  2. SJTL
  3. ULVN
  4. QHRJ 

Ans: 1 - व्याख्या :

नोट: अक्षरों की समरूपता में लगभग कोडिंग-डिकोडिंग (कूटलेखन- कूटवाचन) के नियम लागू होते है। 

4. चित्रों  की समरूपता पर आधारित प्रश्न  
इस प्रकार के प्रश्नों में प्रश्न-चित्र में पहले दो चित्रों के बीच संबंध को पहचान कर तीसरे चित्र का वही संबंध उत्तर-चित्र की जिस आकृति से होता है उसे चुनना होता है।
उदाहरण : निम्नलिखित प्रश्नों में चिन्ह (::) के बाईं ओर दी गई दो आकृतियों में कुछ संबंध है। यही संबंध दाहिनी ओर के दो पदों में है जिनमें से एक लुप्त है। दिए गए विकल्पों में से उस लुप्त पद को ज्ञात करें। 


Ans: 3
उदाहरण :



Share:

Friday, September 30, 2016

Coding Decoding for Banking SSC NTSE

कूटभाषा परीक्षण या सांकेतिक भाषा परीक्षण

कूटलेखन व कूटवाचन

Coding-Decoding



कूटलेखन (Coding) : एक शब्द/वाक्य को किसी विशेष नियम के आधार पर अन्य रूप (code) में लिखना कूटलेखन (Coding) कहलाता है। 

कूटलेखन आधारित प्रश्नों में सामान्यत: एक शब्द /वाक्य का विशेष नियम के आधार पर कोड दिया होता है तथा उसी नियम के आधार पर किसी अन्य शब्द/वाक्य का कोड बनाने के लिए दिया जाता है। परीक्षार्थी को यह नियम पहचानना होता है तथा पूछे गए शब्द/वाक्य का कोड ज्ञात करना होता है । 

उदाहरण: यदि किसी सांकेतिक भाषा में BUS को CVT लिखा जाता है तो CAR को उसी सांकेतिक भाषा में क्या लिखा जाएगा?
व्याख्या:
B
U
S
+1
+1
+1
C
V
T

C
A
R
+1
+1
+1
D
B
S

यहाँ अँग्रेजी वर्णमाला के प्रत्येक अक्षर को एक स्थान आगे बढ़ा दिया गया है। इसलिए CAR का कोड DBS होगा। 

कूटवाचन (Decoding): कूटवाचन (Decoding) कूटलेखन से उल्टी प्रक्रिया है। इसमें कोड को वापिस उसके शब्द/वाक्य में बदला जाता है। 

उदाहरण: यदि किसी सांकेतिक भाषा में UEJQQN शब्द SCHOOLके लिए कोड है तो UVWFGPV कोड किस शब्द के लिए कोड होगा?
व्याख्या:
U
E
J
Q
Q
N
-2
-2
-2
-2
-2
-2
S
C
H
O
O
L

U
V
W
F
G
P
V
-2
-2
-2
-2
-2
-2
2
S
T
U
D
E
N
T
यहाँ अँग्रेजी वर्णमाला के प्रत्येक अक्षर को दो-दो स्थान पीछे कर दिया गया है। इसलिए कोड UVWFGPV का शब्द STUDENT होगा। 

कूटभाषा परीक्षण में परीक्षाओं में अनेक प्रकार से प्रश्न पूछे जा सकते है, जिनमें से प्रमुख प्रकार इस पुस्तक में आगे दी जा रही है लेकिन किसी भी प्रश्न का सही-सही व तीव्र गति से उत्तर देने के लिए निम्नलिखित बातें याद करनी होगी-

(1) अँग्रेजी वर्णमाला में अक्षरों का क्रम:

1
2
3
4
5
6
7
A
B
C
D
E
F
G







8
9
10
11
12
13
14
H
I
J
K
L
M
N







15
16
17
18
19
20
21
O
P
Q
R
S
T
U








22
23
24
25
26


V
W
X
Y
Z



कैसे याद करें :
MEMORY TIP :1
 EJOTY शब्द याद रखें, इनका क्रम 5 के पहाड़े (Table) में आता है इसलिए आसानी से याद हो जाता है।
5
10
15
20
25
E
J
O
T
Y
यदि P शब्द का क्रम देखना हो तो O के एक स्थान आगे P आता है तो –
P का क्रम = 15 + 1 = 16वाँ
इसी तरह ,  N का क्रम =15 - 1 = 14वाँ

MEMORY TIP :2
अँग्रेजी के कुछ अक्षरों की आकृति (Shapes) अंकों से मेल खाती है, जैसे-

coding decoding in hindi
MEMORY TIP : 3
 प्रथम 4 अक्षर A,B,C,D (1,2,3,4) तथा अंतिम अक्षर Z (26) सभी को याद होता ही है।

नोट: उपर्युक्त tips द्वारा लगभग 5 मिनट में सभी 26 अक्षरों का क्रम याद हो जाता है, 
अत: इन्हें याद जरूर कर लें। इससे आपकी प्रश्न हल करने की speed तथा शुद्धता 
(accuracy) दोनों ही बढ़ेगी जो कि किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए आवश्यक है। 

(2)अँग्रेजी वर्णमाला में विपरीत दिशा से अक्षरों का क्रम :

26
25
24
23
22
21
20
A
B
C
D
E
F
G







19
18
17
16
15
14
13
H
I
J
K
L
M
N







12
11
10
9
8
7
6
O
P
Q
R
S
T
U








5
4
3
2
1


V
W
X
Y
Z

 

MEMORY TIP : 4
किसी अक्षर का विपरीत दिशा में क्रम = 27 – (उस अक्षर का सीधी दिशा से क्रम)
उदाहरण: K का विपरीत दिशा से क्रम = 27 – 11 = 16वां
इसी प्रकार, W का विपरीत दिशा से क्रम = 27 – 23 = 4th

(3) कुछ प्रश्नों को हल करने के लिए A,B,C,D… का क्रम क्रमश: 1,2,3,4,… की जगह क्रमश: 27,28,29,30,… आदि लेना पड़ सकता है, क्योंकि Z के बाद हम अगला स्थान A,B,C,D आदि को देते है।


कूटभाषा परीक्षण में प्रश्नों के विभिन्न प्रकार:
पिछले वर्षों में विभिन्न परीक्षाओं में कूटभाषा से संबन्धित अनेक प्रकार के प्रश्न पूछे गए है, जिनमें से प्रमुख प्रकार निम्नलिखित है –

(TYPE A: समान धनात्मक अंतर

उदाहरण 1: यदि किसी कूटभाषा में INSURANCE को JOTVSBODF लिखा जाए तो TREATMENT को क्या लिखा जाएगा?
(a) USFCUNFPU
(b) USFBUNFOU
(c)  VSFBUMFOV
(d) UTFAUNGOU
Answer: (b)
व्याख्या:



उदाहरण 2: यदि किसी कूटभाषा में CREDIT को FUHGLW लिखा जाता है तो LAWYER को क्या लिखा जाएगा?
(a) ODYCHT
(b) NDZCHU
(c)  ODZBHU
(d) UHBYDO
Ans. (c)
व्याख्या:

(TYPE 2: समान ऋणात्मक अंतर
उदाहरण 3: यदि LOANS को HKWJO लिखा जाता है तो FUNDS को लिखा जाएगा-
(a) BQJZO
(b) BQJZO
(c)  BQJZO
(d) BQJZO
Ans: (a)
      व्याख्या:

उदाहरण 4: यदि DONATE का कोड ZKJWPA है तो FUNDS का कोड होगा-
(a) BOJYQ
(b) AQKZP
(c)  OYJQB
(d) BQJZO
Ans. (d)
व्याख्या : उदाहरण की तरह -4 का अंतर। 
(TYPE 3: बढ़ता/घटता क्रम
उदाहरण 5: यदि किसी सांकेतिक भाषा में MORTAGE को NQUXFML लिखा जाता है तो ATTORNEY को क्या लिखा जाएगा?
(a) BVYSWTLG
(b) BUYSWTLH
(c)  AVXSWTLG
(d) BVYSVTGL
Ans: (a)
व्याख्या:

उदाहरण 6: यदि किसी कूटलेखन में SOFTWARE को QKZLMODQ लिखा जाता है तो RECOVERY को क्या लिखेगें?
(a) PAWGLSDI
(b) PAWGLSDI
(c)  PAWGLSDI
(d) PAWGLSDI
(TYPE 4: धनात्मक और ऋणात्मक दोनों अंतर
उदाहरण 7: यदि NATIONAL = OYWETHHD हो, तो POLICIES = ?
(a) QMOEHCLK
(b) OMOEHDLP
(c)  GMOEHCLK
(d) QNOEHCMK
Ans: (a) यहाँ लगातार वर्णों के बीच +1, -2, +3, -4, +5, -6, +7 का अंतर है

उदाहरण 8: यदि ADJECTIVE को DBMCFRLTH लिखा जाए, तो DIGEST को क्या लिखेगें :
(a) GGKCVT
(b) CGJCUR
(c)  GCJCVS
(d) GGJCVR
Ans: (d) यहाँ लगातार वर्णों के बीच +3, -2, +3, -2, +3, -2 आदि का अंतर है  
(TYPE 5: विपरीत अक्षरों के साथ कोडिंग
उदाहरण 9: यदि किसी कूटभाषा में ELECTRICITY को VOVXGIRXRGB लिखा जाता है तो उसी कूट भाषा में PSYCHOLOGY को क्या लिखा जाएगा?
(a) KHBXSLOLTB
(b) LHBXSLOLTC
(c) BTLOLSXBHK
(d) KIBXSLOLTB
 Ans: (a) यहाँ वर्णों को विपरीत क्रम में लिखा गया है अर्थात जिस प्रकार E प्रारम्भ से 5वें स्थान पर आता है V अंतिम से 5वें स्थान पर आता है

(TYPE 6: पड़ोसी अक्षरों के साथ कोडिंग:
उदाहरण 10: यदि BUY का कोड CDVWZA तो CAR का कोड क्या होगा?
(a) CEBDST
(b) TSCBED
(c)  EEBCSQ
(d) DEBCST
 Ans: (d) यहाँ B = CD, U=VW, Y = ZA, इसी तरह C =DE, A = BC, R =ST


( TYPE 7: अक्षर युग्म के आधार पर कोडिंग
उदाहरण 11: यदि एक सांकेतिक भाषा में CORD को RV लिखा जाता है, तो DATA को उसी सांकेतिक भाषा में क्या लिखा जाएगा?
(a) RX
(b) EV
(c)  EU
(d) DU
Ans: (c) यहाँ CO (3 +15 = 18) = R, RD (18+4 =22) =V इसी तरह DA = E, TA=U
 
( TYPE 8: अक्षरों का स्थान परिवर्तन करना।
उदाहरण 12: यदि AIDNI कोड शब्द INDIA के लिए प्रयोग किया जाता है तो PUNJAB के लिए कोड क्या होगा?
(a) PUNJAB
(b) BAJNUP
(c)  JABNUP
(d) ABJNUP

Ans: (b)

उदाहरण 13: यदि HOSTING=SOHTGNI हो तो, CLASSES= ?
(a) CLCASES
(b) ALCSESS
(c)  ALCSSES
(d) LALCSES
Ans: (c) 
 
(TYPE 9: अक्षर-अंक कूटलेखन
उदाहरण 14: यदि CONFERENCE को 31514651851435 लिखा जाए तो INVESTMENT को क्या लिखेगें:
(a) 91322519201361421
(b) 91422519201351420
(c)  91422518201351520
(d) 91422518201351320
Ans: b यहाँ C=3, O=15, N=14 आदि वर्णमाला क्रम के अनुसार कोड दिए गए हैं। 
(TYPE 10: विविध प्रकार के कूटलेखन
कुछ प्रश्न ऐसे भी होते है, जिनमें अक्षरों का क्रम निर्धारित करने की आवशकता नहीं होती बल्कि अक्षरों का कोड सीधा प्रश्न में ही मिल जाता है।
उदाहरण 15: यदि NATIONAL का कोड 53186537 तो TOTAL का कोड क्या होगा?
(a) 16137
(b) 20138
(c)  15137
(d) 36536
Ans: (a)
उदाहरण 16: यदि abc का अर्थ है तुम सुंदर हो’, bdf का अर्थ है रमा सुंदर है, dfg रमा अच्छी है। तो सुंदर के लिए कौन सा अक्षर प्रयोग किया गया है?
(a) a
(b) c
(c)  f
(d) b
Ans:(d)

Coding-Decoding Practice Online (कूटभाषा परीक्षण)


1) VARIETY को सांकेतिक भाषा में UCQKDVX लिखा जाता है ! इसी सांकेतिक भाषा में CARRIER को निम्न में से किस द्धारा प्रकट किया जाएगा ?

  • BBQTHGQ
  • BCQTHGQ
  • BCQTHGQ
  • BCQQHGQ
  • BCPTHGQ
  • 2) BENCHMARK को सांकेतिक भाषा में CNEBHKRAM लिखा गया है ! DESPERATE को किस प्रकार लिखेंगे?
  • PSEDETARA
  • PSEDEETRA
  • PSEDEETAR
  • EDPSEARET
  • EDPSEREAT
  • 3) DIGEST को सांकेतिक भाषा में GGJCVR लिखा गया है! ADJECTIVE को किस प्रकार लिखेंगे?
  • DBLCGRLTH
  • CBMDFRLTH
  • CBMCFRLTH
  • DBMCFRLTH
  • DBLCFRLTH
  • 4) PERFECTION को सांकेतिक भाषा में NOITCEFREP लिखा जाता है ! INSTITUTION को किस प्रकार लिखेंगे?
  • NIOTUTITNSI
  • NOITUTITSNI
  • NOITITUTSNI
  • NOITUTITNSI
  • NOITITUTNSI
  • 5) MADRS को सांकेतिक भाषा में NBESBT द्धारा प्रकट किया गया इसी सांकेतिक भाषा में BOMBAY को प्रकट करने का विकल्प चुनिए:-
  • CPNCBX
  • CPNCBZ
  • CPOCBZ
  • CQOCBZ
  • CNPCBX
  • 6) किसी सांकेतिक भाषा में NATURE को MASUQE लिखा गया है! इसी सांकेतिक भाषा में FAMINE को किस विकल्प द्धारा प्रकट किया जाएगा?
  • FBMJND
  • FZMHND
  • GANIOE
  • EALIME
  • FZNJME
  • 7) यदि सफेद को नीला, नीला को लाल, लाल को पीला, पीला को हरा, हरा को काला, काला को बेंगनी और, बेंगनी को संतरी, माना जायेगा?
  • लाल
  • हरा
  • पीला
  • बैंगनी
  • संतरी
  • 8) किसी सांकेतिक भाषा में ‘37’ का अर्थ ‘किस वर्ग’ तथा ‘583’ का अर्थ ‘जाति तथा वर्ग’ है! तो इस भाषा में ‘जाति’ का कोड क्या है?
  • 3
  • 7
  • 8
  • 5 या 3
  • 5 या 8
  • 9) यदि DELHI को 73541 तथा CALCUTTA को 82589662 द्धारा गुप्त भाषा में लिखा जाता है, तो CALICUT को किस विकल्प द्धारा लिखा जायेगा?
  • 5279431
  • 5978213
  • 8251896
  • 8543691
  • 1694358
  • 10) यदि INSTITUTION को NOITUTITSNI में प्रकट किया गया है, तो PERFECTION को किस विकल्प से प्रकट किया जायेगा?
  • NOICTEFREP
  • NOITCEFERP
  • NOITCEFRPE
  • NOITCEFREP
  • NOITCEFPER
  • निर्देश (प्र. 11 -12) एक दुकानदार अपनी सांकेतिक भाषा में OLISPAH = 28 लिखता है, जहाँ O = 1/- रु. L = 2/- रु. ` I = 3/ रु. तथा आगे इसी प्रकार ! इन्ही संकेतों को ध्यान में रखकर प्रश्नों का उतर दें! 11) SOAP कितनी कीमत प्रदर्शित करता है ?
  • RS. 120
  • RS. 18
  • RS. 16
  • RS. 61
  • RS. 71
  • 12) उस वस्तु का मूल्य क्या होगा जिस पर OIL लिखा है?
  • RS. 10
  • RS. 9
  • RS. 8
  • RS. 6
  • RS. 4
  • 13) यदि HOTEL का कोड 60 हो तो BORE का कोड क्या होगा?
  • 62
  • 40
  • 42
  • 26
  • 34
  • 14) यदि TOTEL का कोड 300 तो तो BORE का कोड क्या होगा!
  • 140
  • 160
  • 200
  • 180
  • 150
  • 15) यदि HOTEL का कोड 30 हो तो BORE का कोड क्या होगा?
  • 5
  • 10
  • 15
  • 20
  • 25
  • 16) एक निश्चित कोड अनुसार DANCER को SFDOBE लिखा जाता है,तो उस कोड में ABOVE को कैसे लिखेगें?
  • FWPCB
  • BCPWF
  • FWNCB
  • BAPWF
  • 17) एक निश्चित कोड अनुसार TELEPHONE को ETPELENOH लिखा जाता है तो उस कोड में STATEMENT को कैसे लिखेंगे?
  • TATSEMENT
  • TSETATNEM
  • SATMETTNE
  • TSETANEMT
  • 18) एक सांकेतिक भाषा में- i) FOR का अर्थ है- ‘old is gold’ i) ROT का अर्थ है- ‘gold is pure’ i) ROM का अर्थ है- ‘gold is costly’ इस भाषा में “pure old gold is costly”
  • TFROM
  • FOTRM
  • FTORM
  • TOMRF
  • TOFRM
  • 19) एक सांकेतिक भाषा में- i) 643 का अर्थ है-“she is beautiful” ii) 567 का अर्थ है- “handsome meets beautiful” iii) 593 का अर्थ है – “he is handsome” यहाँ ‘meets’ के लिए किस सांकेतिक अंक का प्रयोग किया गया है?
  • 5
  • 3
  • 7
  • 6
  • 9
  • 20) CALCUTTA को किसी सांकेतिक भाषा में GEPGYXXE द्धारा प्रकट किया गया है! इसी सांकेतिक भाषा के अनुसार FSQFCE का संकेत किस शब्द के लिये प्रयोग किया गया है!
  • BOMBAY
  • BOMYAB
  • BOBAYM
  • BOBAMY
  • BOMBYA
  • निर्देश (प्र. 21-22) यदि किसी सांकेतिक भाषा में CHARCOAL को 45164913 तथा MORALE द्धारा प्रकट किया जाता है! तब उसी सांकेतिक भाषा में निम्नलिखित शब्दों को व्यक्त करने वाले विकल्प का चयन कीजिए! 21) REAL
  • 8519
  • 6513
  • 6719
  • 6791
  • 6713
  • 22) COACH
  • 38137
  • 491148
  • 48246
  • 49541
  • 49145
  • Share:

    www.sureshlecturer.com

    Advertisements

    Sponsored Links

    Sponsored Link

    Free Online Coaching